शिक्षक दिवस (Teacher’s day) क्यों मनाया जाता है:

दोस्तों स्कूल की पढ़ाई से शुरू होने और कॉलेज की पढ़ाई बंद होने तक हम सभी ने कई बार Teacher’s day को मनाया होगा यह एक ऐसा दिवस है जब बच्चों में खुशियां से लेकर एक अलग ही उत्साह होता है |इसमें बच्चे अपने Teacher को गिफ्ट देते हैं दोस्तों हर साल Teacher’s day यानि शिक्षक दिवस मनाया जाता है| Teacher’s day को भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर मनाया जाता है|

दोस्तों स्कूल की पढ़ाई से शुरू होने और कॉलेज की पढ़ाई बंद होने तक हम सभी ने कई बार Teacher’s day को मनाया होगा यह एक ऐसा दिवस है जब बच्चों में खुशियां से लेकर एक अलग ही उत्साह होता है |इसमें बच्चे अपने Teacher को गिफ्ट देते हैं दोस्तों हर साल Teacher’s day यानि शिक्षक दिवस मनाया जाता है| Teacher’s day को भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर मनाया जाता है|

देश के पहले उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस के शुभ अवसर पर 5 सितंबर को Teacher’s day मनाया जाता है|

डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन राष्ट्रपति के साथ-साथ एक शिक्षक भी थे उन्होंने 40 साल तक शिक्षक के रूप में कार्य किया है

http://technicalsinfo.com

शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है (Why Teacher’s day Celebrate):

शिक्षक दिवस मनाने की परंपरा तब शुरू हुई जब डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन 1962 ई.में भारत के राष्ट्रपति बने और उनके छात्रों ने उनका जन्मदिन मनाने को उनसे परमिशन मांगी तब डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने कहा मेरा जन्मदिन मनाने के बजाय देशभर के शिक्षकों का दिवस आयोजित करें |

  • उसी साल यानि 5 सितम्बर 1962 को पुरे भारत में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाने लगा |
  • भारत में Teacher’s day बहुत ही अच्छे ढंग से मनाया जाता जाता है |

डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म कहाँ पर हुआ था :

  • डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी का जन्म तमिलनाडु के चेन्नई के पास तिरुतनी नामक गांव में 5 सितम्बर 1888 को एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था |
  • इनका जन्म जिस स्थान पर हुआ था वह स्थल एक पवित्र तीर्थस्थल के रूप में विख्यात है |
  • डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन बच्पन से ही पढ़ने में तेज थे |
  • इनके पिता का नाम विरासमियाह तथा माता जी का नाम सिताम्मा था |
  • डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने फिलोसोफी में M.A किया |
  • 1916 में मद्रास रेजीडेंसी कॉलेज में फिलासोफी के असिस्टेंट प्रोफेसर बने फिर बाद में कुछ सालों बाद प्रोफेसर बने|
  • कई भारतीय यूनिवर्सिटी की तरह कोलंबो एवं लंदन यूनिवर्सिटी ने भी अपनी-अपनी मानक उपाधियों से सम्मानित किया|
  • भारत की स्वतंत्रता के बाद भी डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने अनेक महत्वपूर्ण क्षेत्रों में काम किया और राधाकृष्णन को पेरिस में यूनेस्को नामक संस्था के कार्य समिति के अध्यक्ष भी बनाए गए थे
  • 1949 से 1952 तक डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन रूस की राजधानी मास्को में भारत के राजदूत पद पर रहे भारत और रूस की मित्रता बढ़ाने में इनका भारी मात्रा में योगदान रहा |
  • 1952 ईस्वी भारत में के उपराष्ट्रपति बनाए गए उसके बाद ही इन्हें देश का सबसे बड़ा सम्मान भारत रत्न प्रदान किया गया |
  • 13 मई 1962 को डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के दूसरे राष्ट्रपति बने और 1967 तक राष्ट्रपति के रूप में उन्होंने कार्य किया |
  • डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन अपने आप को पूरे जीवनभर शिक्षक मानतें रहें |
  • डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन बच्पन से ही किताबें पढ़ने के शौक़ीन थे |और स्वामी विवेकानंद से काफी प्रभावित थे |

शिक्षक दिवस (Teacher’s Day) का महत्त्व (Importance of Teacher’s Day):

पहले के दिनों में हम लोगों को विद्या ग्रहण करने के लिए गुरुकुल जाते थे और हमारे जो गुरु हुआ करते थे वह अपने ज्ञान से हम लोगों को ज्ञानी बनाने का प्रयत्न करते थे और हम लोगों को जीवन जीने का सही तरीका और मार्गदर्शन को बताते थे लेकिन उन्हीं दिनों में 1 दिन ऐसा साल का आता है कि हम लोगों को गुरु की आदर सत्कार एवं मान सम्मान रखते हैं और वह दिन 5 सितंबर होता है जिस दिन को हम सभी अपने शिक्षकों को आदर सम्मान और आभार व्यक्त करते हैं इस दिनों को हम लोग शिक्षक दिवस के रूप में मनाते हैं|

शिक्षक दिवस क्या होता है :

  • दोस्तों शिक्षक यानि गुरु वह होता है जो हमें विद्या का ज्ञान देता है
  • गुरु को हम लोग भगवान और माता-पिता से ऊपर का दर्जा देते हैं |
  • माता पिता तो हमें सिर्फ जन्म देते हैं लेकिन गुरु हमें सही -गलत के बारे में ज्ञान देते हैं |
  • शिक्षक वह होता है जो हमारे अन्दर से अज्ञान के प्रकाश को निकाल कर उसमे ज्ञान का प्रकाश भरता है
  • गुरु हमें सही रास्ते पर चलने का ज्ञान देते हैं और हमें उज्जवल भविष्य की कामना करतें है |
  • इसी सभी रास्तों पर ज्ञान देने वाले शिक्षक की हम सभी भारतवासी 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस (Teacher’s day) के रूप में मनातें हैं |
  • शिक्षक दिवस पूरे देश में मनाया जाता है लेकिन मनाने की तिथि अलग होती है जो इस कुछ प्रकार से है-
https://technicalsinfo.com/

इन्हें भी पढ़े :

Q .1. शिक्षक दिवस(Teacher’s Day) किसकी याद में मनाया जाता है ?

Ans .शिक्षक दिवस भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ.सर्वपल्ली राधा कृष्णन की याद में हर साल 5 सितम्बर को मनाया जाता है|

Q .2 . Teacher day kab है ?

Ans . Teacher day 5 सितम्बर को है |

मैंने आप लोगो को शिक्षक दिवस के बारे में पूरी जानकरी अच्छे से दिया है मैं उम्मीद करता हूँ की

यह जानकारी आप लोगो को अच्छी लगी होगी |धन्यवाद

Leave a Comment