दीपावली या दिवाली पर निबन्ध (Deepawali Par Nibandh):

नमस्कार दोस्तों एक बार फिर से स्वागत है आप लोगों का मेरे Technicals Info इस Blog में आज मैं आप लोगों को दीपावली या दिवाली त्यौहार के बारे में बताने जा रहा हूं |

नमस्कार दोस्तों एक बार फिर से स्वागत है आप लोगों का मेरे Technicals Info इस Blog में आज मैं आप लोगों को दीपावली या दिवाली त्यौहार के बारे में बताने जा रहा हूं |

प्रस्तावना :

दीपावली या दिवाली हिंदुओं का सबसे प्रिय एवं मन -मोहक त्यौहार होता है जिसे हम सभी बहुत ही उत्साह और खुशी से मनाते है| यह त्यौहार हम सभी लोगों के लिए ढेर सारी खुशियां लेकर आता है इस दिन लोग अपने परिवार दोस्तों और अपने करीबी परिजनों को मिठाईयां और उपहार देकर बधाई भी देते है |दीपावली के दिन शाम हो जाने पर दीपक ,मोमबत्ती, तरह-तरह की लाइट से जलाकर प्रकाशित किया जाता है |बच्चों से बुजुर्ग तक सभी लोग बड़ी धूम-धाम से इस दिन शाम को पटाखे छुड़ाते हैं और साथ ही साथ शाम को लक्ष्मी माता की पूजा की जाती है |इस वर्ष दीपावली का त्योहार पूरे भारत में 4 नवंबर 2021 दिन गुरुवार को मनाया गया दीपावली हिंदुओं का एक बहुत ही बड़ा त्यौहार होता है|

https://technicalsinfo.com/

दीपावली का अर्थ क्या होता है (What Is the Meaning of Deepawali):

दीपावली शब्द संस्कृत भाषा के दो शब्दों से मिलकर बना होता है जिसका अर्थ इस प्रकार से है :

  • दीप +आवली :जिसमे दीप का अर्थ दीपक होता है |तथा आवली शब्द का अर्थ होता है श्रृंखला अथवा लाइन जिसका अर्थ होता है दीपों की श्रृंखला या दीपों की पंक्ति होता है |
  • क्योंकि इस दिन सभी लोग अपने घर में एक कतार से दीपो को जलाते हैं|

दिपावली कब मनाई जाती है :

दिवाली या दीपावली का त्यौहार प्रतिवर्ष कार्तिक मास की अमावस्या के दिन मनाया जाता है या दीपावली का त्यौहार अक्टूबर या नवंबर के माह में मनाया जाता है|

दिपावली मनाने का कारण :

दीपावली के दिन ही भगवान श्री रामचंद्र जी लंका में रावण का अंत करके अपने पत्नी सीता भाई लक्ष्मण और साथ में हनुमान जी के साथ अयोध्या में आगमन हुआ था भगवान श्री रामचंद्र जी के अयोध्या में प्रवेश करने पर पूरे अयोध्यावासी ने अयोध्या को दीपों से और फूलों से सजाया था और बड़े धूम-धाम से दीपावली का त्यौहार मनाए इस दिन को हम लोग अंधेरे पर प्रकाश की विजय के रूप में भी मनाया जाता है|

दीपावली या दिवाली की तैयारी (Preparation of Deepawali):

  • दिपावली या दिवाली का त्यौहार 5 दिनों तक चलने वाला सबसे बड़ा त्यौहार होता है|
  • दीपावली से पहले धनतेरस का त्यौहार आता है इस दिन बाजार में चारों तरफ जनसमूह उमड़ पड़ता है धनतेरस के दिन बर्तन खरीदना शुभ माना जाता है|
  • प्रत्येक परिवार अपनी अपनी आवश्यकता अनुसार कुछ न कुछ खरीदारी करता है इस दिन घर के द्वार पर एक दीपक जलाया जाता है|
  • इसके अगले दिन नरक चतुर्दशी या छोटी दीपावली होती है|
  • दीपावली की शाम लक्ष्मी और गणेश की पूजा की जाती है|
  • पूजा के बाद लोग अपने अपने घरों से बाहर दीपक वह मोमबत्तियां जलाते हैं चारों और चमकते दीपक अत्यंत सुंदर दिखाई देते हैं|

दिवाली पर 10 लाइन :

  1. दीपावली हिन्दुओं का एक प्रमुख त्यौहार होता है |
  2. इस दिन माँ लक्ष्मी और गणेश भगवान की पूजा होती है |
  3. दीपावली को दीप का त्यौहार भी कहा जाता है |
  4. दीपावाली हर साल अक्टूबर या नवम्बर में मनाई जाती है |
  5. दिवाली का त्यौहार कार्तिक मास के महीने में मनाया जाता है |
  6. इस दिन स्कूल से लेकर सरकारी दफ्तर बंद रहतें हैं |
  7. दिपावली के दिन लोग नये -नये कपड़े पहनते हैं |
  8. इस दिन लोग शाम को पटाखे छुड़ाते हैं |
  9. दीपावली का त्यौहार अंधकार पर विजय के रूप में भी मनाया जाता है|
  10. दिवाली के दिन लोग एक दूसरे को उपहार देकर बधाई देते हैं |

उपसंहार :

दिवाली अपने अंदर के अंधकार को मिटाकर समूचे वातावरण को प्रकाश में बनाने का त्यौहार है दिवाली का त्यौहार हमें हमेशा आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है| दीपावली का त्यौहार सांस्कृतिक और सामाजिक सुधार तथा प्रतीक है इस त्यौहार के कारण लोगों में आज भी सामाजिक एकता बनी हुई है|

इन्हें भी पढ़े :

Leave a Comment